current affairs Daily Current Environment

अंतर्राष्‍ट्रीय जैव-विविधता दिवस

चर्चा का कारण 22 मई को मनाए जाने वाले अंतर्राष्‍ट्रीय जैव-विविधता दिवस से पूर्व, संयुक्‍त राष्‍ट्र पर्यावरण भारत और भारत के वन्‍य जीव अपराध नियंत्रण ब्‍यूरो (डब्‍ल्‍यूसीसीबी) ने एक जागरूकता अभियान ‘सभी जानवर इच्छा से पलायन नहीं करते’ शुरू किया है, जो देश भर के प्रमुख हवाई अड्डों पर देखने को मिलेगा। अंतर्राष्‍ट्रीय जैव-विविधता दिवस […]

current affairs Economics Environment

जी एम फसल -2

भारत और जी एम फसल भारत में जी एम फसल के उत्पादन को लेकर दो तरह की अवधारणा सामने आ रही है! पहली अवधरणा पर्यावरणविदों का है जिनका मानना है की भारत सरकार को जी एम फसल उत्पादन की अनुमति नहीं देनी चाहिए! दूसरी अवधारणा वैज्ञानिकों का है जिनका मानना है की भारत सरकार को […]

current affairs Environment

आर्द्र भूमि -2

राष्ट्रीय वेटलैंड नीति राष्ट्रीय वेटलैंड नीति में संरक्षण और सहयोग प्रबंधन, हानि रोकना, बहाली को प्रोत्साहन देना, टिकाऊ प्रबंधन शामिल हैं। वेटलैंड्स योजना प्रबंध और निगरानी संरक्षित क्षेत्र नेटवर्क के अंतर्गत आती है। वेटलैंड मामलों को सुलझाने के लिए उचित फोरम की स्थापना किये जाने का प्रावधान है। इसके लिए संबंधित मंत्रालयों को पर्याप्त निधि […]

current affairs Environment

आर्द्रभूमि-1

आर्द्रभूमि क्या है? वह भूमि जो स्थलीय और जलीय पारिस्थितिकी प्रणालियों में जहां पानी का तल प्रायः जमीन की सतह पर या जमीन की सतह के पास है या जहां जमीन उथले पानी के द्वारा ढंकी रहती है, के बीच संक्रमित होती रहती है। आर्द्रभूमियों पर रामसर सम्मेलन में आर्द्रभूमि को इस तरह परिभाषित किया […]

current affairs Daily Current Environment

जीरो बजट नेचुरल फार्मिंग

चर्चा का कारण हाल ही में जीरो फार्मिंग अधिक चर्चा में रहा। क्या है जीरो बजट नेचुरल फार्मिंग?  जीरो बजट नेचुरल फार्मिंग एक ऐसी कृषि है जिसमे किसानों को शून्य लगात होती है। जीरो बजट नेचुरल फार्मिंग किसानों की बाहर पर निर्भरता नहीं होती है। पौधों तथा मृदा से ही आवश्यक पोषक तत्व प्राप्त किये जाते […]

Daily Current Environment

एकल उपयोग प्लास्टिक

चर्चा का कारण यूरोपीय संसद ने हाल ही में एकल उपयोग (सिंगल-यूज़) वाले प्लास्टिक उत्पादों पर प्रतिबंध लगाने की बात कही है। क्या है एकल उपयोग प्लास्टिक एकल-उपयोग वाले प्लास्टिक, या डिस्पोजेबल प्लास्टिक का उपयोग केवल एक बार उपयोग करके उन्हें फेंक दिया जाता है या पुनर्नवीनीकरण किया जाता है। ये वस्तुएं हैं, प्लास्टिक की […]

Environment

नागोया प्रोटोकॉल

नागोया प्रोटोकॉल के बारे में विशिष्ट तथ्य नागोया प्रोटोकॉल का सम्बन्ध आनुवंशिक संसाधनों के संरक्षण से है। साथ ही आनुवंशिक संसाधनों के लाभ को सब तक समान पहुँच सुनिश्चित करने का लक्ष्य रखता है। जैव वविधता अभिसमय -10 के समय नागोया प्रोटोकॉल को 2010 में जापान के नागोया शहर में स्वीकार किया गया था। 50 […]

Environment

जैविक विविधता (सीबीडी) संबंधी कन्वेंशन

    जैवविविधता क्या है? जैविक विविधता, अथवा जैवविविधता के अंतर्गत पृथ्वी पर रहने वाले सभी तरह के जीवों की विविधता शामिल है। जैवविविधता स्वयं को तीन स्तरों पर अभिव्यक्त करती है: (a ) प्रजाति विविधता – जिसका संबंध जीवित सूक्ष्म जीवों की संख्या और उनके प्रकारों से है। (b ) आनुवांशिक विविधता– जिसका संबंध […]

Environment

सेंदाई फ्रेमवर्क :आपदा जोखिम न्यूनीकरण (2015 -2030 )

सेंदाई फ्रेमवर्क :आपदा जोखिम न्यूनीकरण (2015 -2030 ) जापान के सेंदाई शहर में 2015 आयोजित तृतीय संयुक्त राष्ट्र आपदा जोखिम न्यूनीकरण सम्मलेन के दौरान यू एन सदस्य देशोंके द्वारा सेंडाइ फ्रेमवर्क को स्वीकार किया गया था। सेंदाई फ्रेमवर्क :आपदा जोखिम न्यूनीकरण (2015 -2030 ) में सात लक्ष्य तथा चार प्राथमिकताएं निर्धारित की गयी है। सेंडाइ […]

Environment

मिनीमाता कन्वेंशन

मिनीमाता कन्वेंशन यह एक बहुपक्षीय पर्यावरणीय समझौता है जो उन विशेषीकृत मानवीय गतिविधियां को सम्बोधित करता है जो व्यापक मर्करी प्रदूषण में योगदान देती है। जापान के मिनीमाता शहर के नाम पर इस अधिसमय को मिनीमाता कन्वेंशन नाम दिया गया है। यह अधिसमय 16 अगस्त 2017 को प्रभावी हुआ। भारत जून 2018 में इस अभिसमय […]